नमस्कार दोस्तों, आज के इस लेख मे हम अयोध्या के बारे में पूरी जानकारी आपको बताएंगे और आप अयोध्या कैसे जा सकते हैं? कौन कौन से माध्यम आपके पास हैं? और अयोध्या जाने का सबसे अच्छा समय कौन सा होता है? और यहां घूमने के लिए 10 सबसे अच्छी जगह कौन सी है? तो आपके इन सभी सवालों के जवाब इस लेख में हमने दिए है। इसलिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

अयोध्या के बारे में पूरी जानकारी

अयोध्या वह धरती जिस पर प्रभु श्री राम का जन्म हुआ। अयोध्या उत्तर प्रदेश राज्य में सरयू नदी के तट पर स्थित है। अयोध्या आज भी राम जन्मभूमि और यहां स्थित कई मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है। जब से राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हुआ है। तब से अयोध्या को भविष्य के एक बड़े पर्यटन स्थल के रूप में देखा जा रहा है।

अयोध्या कैसे जा सकते हैं? | सबसे अच्छा समय | घूमने के लिए 10 अच्छी जगह
अयोध्या कैसे जा सकते हैं? | सबसे अच्छा समय | घूमने के लिए 10 अच्छी जगह

अयोध्या उन शहरों में शामिल है, जिनमें देश के हिंदू धर्म के साथ पवित्र शहर आते हैं। जैसे मथुरा, काशी, हरिद्वार, उज्जैन, अयोध्या, कांचीपुरम, और द्वारका शामिल है। अयोध्या को घाटों और मंदिरों का शहर भी कहा जाता है।

कुछ साल पहले तक इस जगह को फैजाबाद के नाम से भी जाना जाता था। जिसका नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया है, लेकिन भगवान राम का जन्म स्थान होने के कारण पहले से ही इस शहर को अयोध्या के नाम से जाना जाता था।

इसलिए यह जगह ऐतिहासिक धार्मिक स्थलों के लिए प्रसिद्ध है। अगर आप भी राम जन्म भूमि अयोध्या जाने की योजना बना रहे हैं या यहां के ऐतिहासिक स्थलों की यात्रा करना चाहते हैं। तो यह लेख आपके बहुत काम की है, क्योंकि इसमें हम आपको अयोध्या के प्रसिद्ध मंदिरों, पर्यटन स्थलों, और दर्शनीय स्थलों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। तो बने रहिए हमारे साथ लेख के अंत तक और ऐसी ही लेख पड़ने के लिए वेबसाईट को सब्सक्राइब जरूर करें।

अयोध्या में भगवान श्री राम जी का भव्य मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। अयोध्या में कुल 5000 से भी अधिक छोटे-बड़े मंदिर पर स्थित है। इसके अलावा यहां कई पवित्र घाट हैं। जिनमें राम घाट, लक्ष्मण घाट, गुप्तार घाट, और जानकी घाट प्रमुख है। अयोध्या में दिवाली भी बहुत खास होती है। क्योंकि दिवाली का पर्व भगवान राम के अयोध्या आगमन से भी जुड़ा है। इसलिए कुछ सालों से दिवाली पर अयोध्या में पारंपरिक दीपोत्सव भी बहुत धूमधाम से मनाया जाता है।

जिसमें अयोध्या के घाटों पर लाखों दीप जलाए जाते हैं। वह शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी होता है। जिसे देखने के लिए भारी संख्या में यहाँ लोग आते हैं। तो अगर आप भी अयोध्या यात्रा की सोच रहे हैं। तो हम बताते हैं अयोध्या में आप किस प्रकार पहुंच सकते हैं। और वहां कहां-कहां घूम सकते हैं।

अयोध्या घूमने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?

दोस्तों अयोध्या में घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के बीच होता है। जब सर्दियों होती हैं। वरना अन्य समय में यहां का मौसम काफी गर्म और शुष्क रहता है।

अयोध्या कैसे पहुंचे? | बस से | ट्रेन से | हवाई जहाज द्वारा?

अब हम जानेंगे कि आप अयोध्या कैसे जाएं इसके लिए हमारे पास तीन माध्यम उपलब्ध है इनके बारे में हमने विस्तार से बताया है।

अयोध्या कैसे पहुंचे? | बस से | ट्रेन से | हवाई जहाज द्वारा?
अयोध्या कैसे पहुंचे? | बस से | ट्रेन से | हवाई जहाज द्वारा?

रेल मार्ग से अयोध्या कैसे पहुंचे?

अयोध्या रेलवे स्टेशन देश के सभी बड़े शहरों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। आप किसी भी रेलवे स्टेशन से अयोध्या के लिए ट्रेन लेकर बड़े आराम से पहुंच सकते हैं। अयोध्या जाने के लिए ट्रेन सबसे बढ़िया और सुविधाजनक माध्यम है।

सड़क मार्ग द्वारा अयोध्या कैसे पहुंचे?

अगर आप सड़क मार्ग से अयोध्या की यात्रा करने के लिए जा रहे हैं। तो बता दें कि राज्य में अयोध्या के लिए नियमित रूप से सरकारी और निजी बसें चलती हैं। उत्तर प्रदेश के अन्य स्थलों और अयोध्या के बीच चलने वाली बसें इसे राज्य के अन्य प्रमुख शहरों से भी जोड़ती हैं। दिल्ली जैसे शहरों से अयोध्या के लिए वॉल्वो कोच और डीलक्स बसें चलती हैं।

हवाई मार्ग से अयोध्या कैसे पहुंचे?

अगर आप हवाई मार्ग द्वारा अयोध्या जाना चाहते हैं। तो बता दें कि अभी अंतरराष्ट्रीय अयोध्या एयरपोर्ट निर्माणाधीन है। लेकिन अयोध्या का निकटतम एयरपोर्ट लखनऊ एयरपोर्ट है। जो प्रदेश का सबसे प्रमुख हवाई अड्डा है। तथा देश के सभी बड़े शहरों से भी जुड़ा हुआ है। यहां से आप टैक्सी या कैब बुक करके अयोध्या पहुंच सकते हैं। अयोध्या से लखनऊ एयरपोर्ट की दूरी लगभग 130 किलोमीटर है।

अयोध्या में 10 सबसे अच्छी घूमने लायक पर्यटन स्थल?

अब हम उनके बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आपको अपनी अयोध्या ट्रिप की लिस्ट में जरूर शामिल करना चाहिए।

  1. राम की पैड़ी : राम की पैड़ी सरयू नदी के किनारे स्थित घाटों की एक श्रंखला है। राम की पैड़ी अयोध्या में ठीक उसी तरह है, जैसे हरिद्वार में हर की पौड़ी है। यह नया घाट है। जहां भारी संख्या में श्रद्धालु सरयू नदी में स्नान करने आते हैं। राम की पौड़ी में श्रीराम से जुड़े समारोह के दौरान श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती है। लोग यहां आकर सरयू नदी के पवित्र जल में स्नान करते हैं। इसी घाट पर हर साल लाखों दिये दिवाली के दिन अयोध्या दीपोत्सव पर जलाए जाते हैं।
  2. राम कथा पार्क : एक बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ अयोध्या का यह सुंदर पार्क है। जिससे ओपन एयर थिएटर और लोन हैं। साथ ही यहां आपको अध्यात्मिकता भक्ति के कार्यक्रम, सांस्कृतिक कार्यक्रम, धार्मिक कार्यक्रम, और कथा यह सभी कार्यक्रम होते हुए मिल जाएंगे। शाम के वक्त बच्चों के लिए मैदान ओर वयस्कों के लिए यहां बगीचे भी हैं। यहीं पर हर साल अयोध्या दीपोत्सव पर लाखों दिए जलाने के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी होता है।
  3. सीता की रसोई : अयोध्या में राजकोट के पास उत्तरी पश्चिमी छोर पर स्थित सीता की रसोई काफी प्रसिद्ध जगह है। यह एक मंदिर है। जिसके एक हिस्से में रसोई का मॉडल बना हुआ है। यहां पारंपरिक बर्तनों से बनी एक प्रतीकात्मक रसोईघर को देख सकते हैं।
  4. श्री राम जन्मभूमि : श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में सबसे पवित्र जगह में से एक है। जो अयोध्या रेलवे स्टेशन से मात्र 2 किलोमीटर की दूरी पर है। राम जन्मभूमि वह जगह है। जहां पर भगवान श्रीराम का जन्म हुआ था। श्री राम के जन्म स्थान पर अभी रामलला की मूर्ति विराजमान है। अब इसी जगह पर भव्य राम मंदिर बन रहा है जो आने वाले कुछ वर्षों में बनकर तैयार हो जाएगा।
  5. हनुमानगढ़ी : अयोध्या में सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक हनुमानगढ़ी है। जो अयोध्या रेलवे स्टेशन से केवल 1 किलोमीटर दूर एक पहाड़ की चोटी पर स्थित है। जहां कुल 76 सीढ़ियां चढ़ने के बाद मंदिर में हनुमान जी के दर्शन होते हैं। इस मंदिर में आपको हनुमान जी माता अंजनी की गोद में बैठे नजर आएंगे। भक्तों के लिए यह उचित स्थान है। जहां आकर आप धार्मिकता के साथ-साथ पहाड़ों के आसपास का मनोरम नजारा भी देख पाएंगे।
  6. दशरथ महल : दशरथ महल अयोध्या शहर के बीचों बीच स्थित हनुमानगढ़ी से बस थोड़ी दूर पर है। इस महल के अंदर एक मंदिर भी है। जहां भगवान श्री राम लक्ष्मण और माता सीता के साथ-साथ भरत और शत्रुघ्न की मूर्तियां स्थापित हैं।
  7. कनक भवन : अयोध्या में एक सुंदर महल के तौर पर कनक भवन स्थित है। इसे सोने का घर नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इस मंदिर में माता सीता और प्रभु श्रीराम के सोने के मुकुट वाली प्रतिमा स्थापित है। यह मंदिर हनुमानगढ़ी के बेहद करीब है जहां आप पैदल चलकर भी जा सकते हैं।
  8. त्रेता के ठाकुर : त्रेता के ठाकुर अयोध्या में सरयू नदी के तट पर स्थित एक प्राचीन मंदिर है।
  9. गुलाब बाड़ी : पर्यटन स्थल गुलाब बाड़ी फैजाबाद रेलवे स्टेशन से महज 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गुलाब बाड़ी एक स्मारक है। यह स्मारक चारों तरफ से गुलाब बाग से घिरा हुआ है। जिसकी वजह इस जगह का नाम गुलाब बाड़ी पड़ा है। आपको बता दें कि जगह पर पानी के फव्वारे भी स्थित हैं। यहां आपको कई तरह के गुलाब देखने को मिल जाएंगे।
  10. तुलसीदास स्मारक भवन : यह संग्रहालय गोस्वामी तुलसीदास की स्मृति में बनवाया गया है। यह भवन आज के समय में एक विशाल पुस्तकालय और अयोध्या रिसर्च संस्थान हैं। साहित्य आदि में रुचि रखने वालों को यहां अवश्य आना चाहिए। क्योंकि यहां एक लाइब्रेरी और एक अनुसंधान केंद्र भी है। जहां अयोध्या के साहित्य संस्कृत और आध्यात्मिक विषयों पर खोज की जाती है। यह स्मारक अयोध्या में राजगंज चौराहे पर राष्ट्रीय राजमार्ग के पास स्थित है।